एजेंसी, डीडवाना। सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड में पुलिस को अभी तक अहम लीड हाथ नहीं लगी है। पुलिस आरोपियों की तलाश में कई जगह दबिश दे रही है। कुछ लोगों से पूछताछ भी की गई है लेकिन कोई खास सबूत नहीं मिले हैं। अब शूटर्स को सुजानगढ़ ड्राप करने वाला एक युवक सामने आया है। उसने दावा किया है जानकार का फोन आने पर उसने आरोपियों को सुजानगढ़ छोड़ा था। दावा कर रहे शख्स का नाम योगेश शर्मा है जो कार चलाता है। उसने बताया कि आरोपी कभी सालासर, कभी लाडनूं तो कभी हिसार छोड़ने की बात कह रहे थे। लेकिन उसने मना कर दिया।

शर्मा ने मीडिया को बातचीत में बताया, ‘परसो रात को मैं हॉस्पिटल गया हुआ था तो मेरे पास कॉल आया। मेरे साथ ही रहता है लड़का जिसको भी इस घटना का कुछ नहीं पता था। वो अपनी शॉप से आया था पेट्रोल पंप की तरफ है उसका कॉल आया था कि दो सवारी छोड़नी है सुजानगढ़। मैंने कहा ठीक है छोड़ दूंगा। फिर मैं घर पे आया वाइफ को ड्रॉप करके, हम हॉस्पिटल गए हुए थे। ड्रॉप करके आया तो वो पीछे वाली सीट पर बैठे गए थे दोनो। जिसका कॉल आया था और एक लड़का साथ में था, जो मेरे साथ रहता है। वो एक लड़का पीछे बैठ गया और एक लड़का आगे की तरफ बैठ गया। उनको मैं बोला आप दोनों चल लो, नाइट का टाइम है। दो लड़को को छोड़ना है, आपने फोन किया है तो, सेफ्टी रहेगी नाइट का टाइम है। हम चले गए। फिर उन्होंने हमें 1500 रुपए पेट्रोल पंप पर दे दिए लाडनूं की पुलिया के पास में, जो पेट्रोल पंप है डीडवाना में। तेल डलवाकर वहां से हम सुजानगढ़ की तरफ रवाना हो गए।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here