सूर्योदय भास्कर, लखनऊ। राजस्थान में एक चुनावी भाषण के दौरान प्रधानमंत्री के लिए पनौती शब्द का इस्तेमाल किए जाने के बयान पर योगी सरकार के मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने पलटवार किया है। उन्होंने एक्स पोस्ट कर लिखा है कि राहुल गांधी बार-बार और हर बार साबित करते हैं कि वो मानसिक रूप से अभी बच्चे ही हैं! हिंदुस्तान को चाहने वाला हर व्यक्ति देश के यशस्वी प्रधानमंत्री आदरणीय नरेन्द्र मोदी जी को सर आaखों पर बैठाता है। प्रधानमंत्री के लिए ऐसे आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग उनकी दुर्बुद्धि और मानसिक दिवालियापन का प्रमाण है। 

उन्होंने आगे लिखा कि कभी नीच, कभी पनौती जैसे अशोभनीय शब्द कांग्रेस की ओबीसी विरोधी सोच को दर्शाता है। मुंह में चाँदी का चम्मच लेकर पैदा होने वाले कांग्रेस के राजकुमार सोचते हैं कि सत्ता उनकी खानदानी जागीर है। ओबीसी वर्ग और साधारण परिवार से आने वाले एक व्यक्ति जो देश के प्रधानमंत्री हैं, इसे वो पचा नहीं पा रहे हैं। 

कभी लेडीज वाशरूम में घुस जाते हैं, कभी आलू से सोना निकालते हैं और कभी कहते हैं कि मंदिरों में लड़के छेड़खानी करने जाते हैं! उनकी इसी मूर्खता का परिणाम है कि पिछले दसियों साल से कोई माँ-बाप अपने बेटे का नाम पप्पू / राहुल नहीं रखते!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here